Print Document or Download PDF

तुलसी के गुण तथा उपयोग

Feed by sandy Cat- Health & Beauty

तुलसी के गुण तथा उपयोग

बच्चों के पेट में दर्द के लिए : तुलसी और अदरक का रास सम भाग लेकर कुछ गुनगुना करके पिला दीजिये दर्द तुरंत आराम हो जाएगा।

बच्चों के दस्त लगने में : तुलसी और पान का रस मिलाकर मात्रा में गुनगुना करके पिलाने से बच्चों को दस्त में लाभ मिलता है। पेट अथवा अफरा अदि के लिए कभी न होने वाली अचूक दावा है।

बच्चों की शीतल एवं चेचक की दवा : तुलसी की मंजरी अजवायन और अप्पी समान भाग पीसकर देने से बच्चो की शीलता खत्म हो जाती है।

बच्चों के कान के दर्द के लिए : तुलसी के पत्तों के रस को गर्म क्र और गुनगुने सहने लायक रस को धीरे धीरे बूंदों में कान में डालें कान का दर्द तुरंत आराम हो जाएगा।

बच्चों के दांत निकलने पर : तुलसी के पत्तों का रस शहद में मिलाकर मसूड़ों पर मलिए और कुछ चटा दीजिए। दांत बिना कष्ट निकल आएंगे।

लू लगने पर : तुलसी के पत्तों का रस चीनी डालकर पिने से गर्मी के कारण लगने वाली झाँक का असर नहीं पडेगा और यदि लग गई है तो फायदा मिलेगा।

दांत के दर्द में : तुलसी का पत्ता तथा काली मिर्च पीसकर गोली बना लीजिए और दर्द वाले दांत के निचे गोली दबा कर थोड़ी देर रखने से लाभ मिलेगा।

प्रदर की दवा : २ तोले तुलसी का रस बनाकर चावल के साथ मांड (चावल पकाने के बाद का पानी) में मिलाकर पिने से साथ दिन में प्रदर समाप्त हो जाएगा। दावा खाने तब दूध भाग (चावल) खाइए।

दाद खाज होने पर : तुलसी का पत्ता रगड़िए दाद समाप्त हो जाएगा।

 

कुछ उपयोगी नापतोल: 8 चावल = 1 रत्ती | 8 रत्ती = 1 माशा | 4 माशा =1 टंक, 12 माशा = 1 तोला | 5 तोला = 1 छटांक | 4 छटांक = 20 तोला या 1 पाव | 8 छटांक या 40 तोला = 1 अधसेरा | 16 छटांक या 80 तोला = 1 सेर | 5 सेर = 1 पसेरी | 8 पसेरी = 40 सेर या 1 मन | 1 केजी = 86 तोला या 1 सेर 6/5 छटांक | 100 केजी = 1 क्विंटल या 2 मन 27 5/2 सेर।।. Read more at: http://fastread.in/explore.php. Read more at: http://fastread.in/explore.php

 

Read More.


Go Back