Print Document or Download PDF

मेरे जीवन का लक्ष्य

Feed by Kumar Sanu Cat- Essay

प्रत्येक मनुष्य अपने जीवन में कुछ-न-कुछ बनने का स्वप्न देखता है। प्रत्येक मनुष्य की सफलता उसके पूर्व निश्चित लक्ष्य पर निर्भर रहती है। जीवन के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए दृढ निश्चय, कठिन परिश्रम तथा अदम्य उत्साह आवश्यक है।

लक्ष्य जीवन में एक राह दिखाता है। यदि जीवन में लक्ष्य है तो हम जिन्दगी से कभी मायूस नही होते। लक्ष्य के बिना हम यह फैसला नहीं कर सकते कि हम अपनी शक्ति को किस क्षेत्र में आगे बढाएं। बिना उद्देश्य के जिन्दगी उस तीर की तरह है, जिसका अपना कोई लक्ष्य नहीं होता। विद्यार्थियों को जल्दी ही इस विषय पर फैसला कर लेना चाहिए कि वे डॉक्टर बनना चाहते हैं या इंजीनियर, वकील बनना चाहते है या अध्यापक या अन्य किसी सरकारी क्षेत्र में जाना चाहते हैं या वे सैनिक बनकर देश की रक्षा व सेवा करना चाहते हैं। ज्यादतर लोग सुविधाओं के लिए तथा आरामदायक जीवन के लिए ऐसा काम चुनते है, जिसमे उन्हें कम मेहनत करके अधिक पैसा मिले। पर दुनिया में पैसा सब कुछ नही है। पैसे से हम आराम, प्यार नहीं खरीद सकते।

मेरा उद्देश्य पैसा कमाना नहीं है। बल्कि मेरा उद्देश्य देश की सेवा करना है। मैं कुछ ऐसा करना चाहता हुं जिससे न केवल आज के लोगों को तथा देश को बल्कि आने वाली पीढी को भी फायदा हो। मेरा उद्देश्य ‘अध्यापक’ बनना है, जो कि एक आदर्श अध्यापक हो।

मै जानता हुं अध्यापकों को अच्छा वेतन नहीं मिलता तथा समाज में उन्हें वह आदर नहीं मिलता जिसके वास्तव में वे हकदार होते है। वे अपने कार्य में पूरी ईमानदारी बरतते हैं। अध्यापन का क्षेत्र चुनने वाले लोगों का जीवन को देखने का नजरिया अलग होता है, वे सादा जीवन तथा उच्च विचार के सिद्धांत पर चलते है।

एक आदर्श अध्यापक देश की उन्नति के लिए ही कार्य करता है। वह अपने विद्यार्थियों का चरित्र निर्माण करता है। विद्यार्थी देश का भविष्य होते हैं यदि उनका चरित्र मजबूत होगा तो वह इधर-उधर भटकेंगे नहीं तथा अपने उद्देश्य को पाने का सदैव प्रयास करेंगे तथा वे एक आदर्श नागरिक बनते हैं। अध्यापक उनको उनका भविष्य चुनने में मदद करता है तथा उनका सही मार्गदर्शन करता है। वह उन्हें एक महान इंजीनियर, महान डॉक्टर, महान अध्यापक तथा एक आदर्श देशवासी बनने में मदद करता है।

एक आदर्श अध्यापक की तरह ही मैं अपने चरित्र का निर्मान करना चाहता हुं तथा आने वाली पीढी का मार्ग दर्शन करना चाहता हुं। एक अच्छा व्यवसाय स्वयं में एक अच्छा इनाम है।

एक आदर्श अध्यापक समाज के लिए एक अमूल्य उपहार है।

Read More.


Go Back