Print Document or Download PDF

पथरी क्यों होता है और इसका इलाज

बदलती जीवनशैली और खराब खानपान की वजह से पेट से संबधित कई समस्याएँ आम हो गयी है. इनमें पथरी सबसे प्रमुख है. यह खराब फ़ूड हैबिट और पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने की वजह से होता है. 

Various problems related to stomach have become common due to changing lifestyle and poor diet. The stone in them is the most prominent. This is due to poor food habit and not drinking enough water.

stone problem in stomach

कैसे होता है पथरी 

गुर्दों में यूरिक एसिड जमा होने की वजह से यह बीमारी होती है. इसमें गुर्दे के अंदर महीन क्रिस्टल एकत्रित हो जाते है, जोकि समय के साथ बड़े हो जाते है. एक समय में गुर्दे में एक से अधिक पथरी भी हो सकते है. यदि पथरी के बड़े होने से पहले ही इसका पता चल जाये, तो कुछ घरेलु उपाय या आयुर्वेदिक दवाई से यह मूत्रमार्ग से बाहर निकल जाती है. यदि पथरी बड़ी हो जाती है (3 से 4 एमएम की) तो भी ट्रीटमेंट से या फिर ऑपरेशन कर गुर्दे से बाहर निकाल दिया जाता है. पथरी की बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति को पेट में असहनीय दर्द होता है, साथ ही कई बार पेशाब के साथ खून भी आ सकते है. चिंता की बात यह है की लापरवाही बरतने से पथरी का साइज बढ़ता है और दर्द असहनीय हो जाता है. पथरी की बीमारी मोटापा, हाइपरटेंशन, शुगर आदि समस्याओं के कारण भी हो सकती है. 

गलत खानपान की वजह से शरीर का पाचन तंत्र ठीक से कार्य नहीं करता है. इसकी वजह से शरीर कैल्शियम फॉस्फेट को पचा नहीं पाटा और वह गुर्दों में जाकर इकट्ठा होने लगते हैं और वह छोटे - छोटे पार्टिकल्स बनाता है और उसके चारों और साल्ट इकट्ठा होने लगता है. कुछ समय में ही यह स्टोन का रूप धारण कर लेता है. स्टोन का साइज दिन प्रतिदिन बढ़ता जाता है. 

इलाज है संभव 

पथरी का ट्रीटमेंट उसके साइज पर निर्भर करता है. चार एमएम से कम की पथरी को मेडिकेशन के माध्यम से ही निकाला जा सकता है. यदि यह पथरी पेशाब की नली में आ चुकी है, तो इसके लिए चिकित्सक यूरेसट्रोस्कोपी करते है. पथरी का साइज बढ़ने पर माइनर सर्जरी के माध्यम से पथरी को निकाला जाता है. हालांकि, आजकल लेजर ट्रीटमेंट का ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है. इसमें बड़े साइज की पथरी को भी लेजर के माध्यम से अंदर ही तोड़ दिया जाता है और उसके कण बाद में अपने आप निकल जाते है. लेजर ट्रीटमेंट में खून कम निकलता है और रिकवरी जल्दी होती है.  

पथरी से बचने के उपाय 

  • अधिक से अधिक पानी पीएं. 
  • फास्ट फ़ूड से परहेज करे, चूंकि इन फूड्स में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे कैल्शियम अधिक बनता है.
  • कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन अधिक न करे. 
  • नियमित पौष्टिक और संतुलित आहार ले. 
  • सुबह-शाम एकसार साइज करे. और शरीर को एक्टिव बनाएं रखे. 
  • ओटीसी दवाइयों का सेवन न करे. 

Read More.


Go Back